कोरोना के संक्रमण के बीच डाक विभाग की इस पहल से भक्त हुए गदगद

-NH Desk, Lucknow

सोमवार से सावन का महीना कोरोना संक्रमण के साये के बीच आरंभ हो रहा है। सावन के महीने में भगवान शंकर की पूजा और उनके प्रसाद की बड़ी महिमा है। अक्सर लोगों की इच्छा होती है कि काश घर बैठे ही उन्हें बाबा भोलेनाथ का प्रसाद मिल सके। ऐसे में बाबा के भक्तों को अब निराश नहीं होना पड़ेगा। अब वे घर बैठे स्पीड पोस्ट द्वारा  काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद प्राप्त कर सकेंगे। उक्त जानकारी लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ  कृष्ण कुमार यादव ने दी।

इस संबंध में जानकारी देते हुए लखनऊ (मुख्यालय) परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएँ कृष्ण कुमार यादव ने बताया कि डाक विभाग और श्री काशी विश्वनाथ मंदिर ट्रस्ट के बीच हुये एक एग्रीमेण्ट के तहत नए स्वरूप में श्री काशी विश्वनाथ मंदिर का प्रसाद स्पीड पोस्ट सेवा द्वारा लोगों को उपलब्ध कराया जाएगा। इसके तहत अपने नजदीकी डाकघर से मात्र 251 रूपये का ई-मनीआर्डर प्रवर डाक अधीक्षक, वाराणसी (पूर्वी) मंडल के नाम भेजना होगा। ई-मनीऑर्डर प्राप्त होते ही डाक विभाग द्वारा तत्काल प्रसाद दिये गए पते पर भेज दिया जाएगा ।  यादव ने बताया कि, डिब्बा बंद प्रसाद टेंपर प्रूफ इनवेलप में होगा । इससे किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं की जा सकेगी। प्रसाद में श्री काशी विश्वनाथ ज्योतिर्लिंग की छवि, महामृत्युंजय महायंत्रम, श्री शिव चालीसा, 108 दाने की रुद्राक्ष की माला, बाबा को चढ़ा बेलपत्र, माता अन्नपूर्णा से भिक्षाटन करते भोले बाबा की छवि अंकित सिक्का, मेवा, भस्म, चंदन, रक्षा सूत्र एवं मिश्री का पैकेट इत्यादि शामिल होंगे।

डाक निदेशक,लखनऊ परिक्षेत्र कृष्ण कुमार यादव के शब्दों में

 

डाक विभाग की इस पहल को काफी सराहना मिल रही है। कोरोना के चलते जहाँ इससे सोशल डिस्टेनसिंग और ‘स्टे होम, स्टे सेफ’ का पालन हो सकेगा, वहीं लोगों की घर बैठे बाबा का प्रसाद पाने की मुराद भी पूरी हो सकेगी। डाक विभाग ने इस बात के भी प्रबंध किए हैं कि, भक्तों को मोबाइल नंबर पर स्पीड पोस्ट का विवरण एसएमएस के माध्यम से मिलेगा। इसके लिए भक्तों को ई-मनीऑर्डर में अपना पूरा पता, पिन कोड और मोबाइल नंबर लिखना अनिवार्य होगा।

Review कोरोना के संक्रमण के बीच डाक विभाग की इस पहल से भक्त हुए गदगद.

Your email address will not be published. Required fields are marked *