पटना पोस्ट ऑफिस की मनमानी

13/08/2021(NH Desk): भारतीय पोस्ट ऑफिस को एक तरफ जहां सरकार एक विश्व पटल पर दिखाना चाहती है लेकिन भारतीय पोस्ट ऑफिस की पृष्टभूमि को   धूमिल करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं। आज पोस्ट ऑफिस अपने अस्तित्व को खो रहा है यह सारा श्रेय पोस्ट ऑफिस के कर्मचारियों को जाता है क्या ऐसा बोलना पड़ रहा है आज लोग पोस्ट ऑफिस के स्पीड पोस्ट के माध्यम से अपने प्रश्नों को जल्दी से जल्दी अपने निर्धारित जगह पर पहुंचाना चाहता है लेकिन पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी स्पीड पोस्ट कैसे हो को बर्बाद करके रखे हुए हैं।

आज अगर आप स्पीड पोस्ट के माध्यम से अपना सामान को भेजते हैं तो पोस्ट ऑफिस के कर्मचारी उसे लोगों के ना ले जाकर अपने पास ही डिलीवर कर के रख ले रहे हैं और ऑनलाइन यह लिख देते हैं कि घर पर कोई नहीं है दरवाजा बंद है जो कि पोस्ट ऑफिस का कर्मचारी उस पते पर ना जाकर डायरेक्ट वह ऐसा अपने वेबसाइट पर अपडेट कर रहा है।

पोस्ट ऑफिस ऐसा कर्मचारियों पर क्या करेगा इनके खिलाफ कोई कार्रवाई होगी कि नहीं होगी ऐसा देखना होगा क्योंकि अधिकतर सरकारी कर्मचारियों के विरुद्ध कोई भी हम कंप्लेन इनके वेबसाइट पर करते हैं तो इसका कोई भी निष्कर्ष नहीं निकल कर आता ना कार्यवाही की जाती है ना कोई जानकारी दी जाती है।

सबूत के आधार पर मैंने वेबसाइट से डिटेल लेकर फोटो के माध्यम से अपलोड किया है।

संपादक अरविंद कुमार पश्चिम बर्दवान

Review पटना पोस्ट ऑफिस की मनमानी.

Your email address will not be published. Required fields are marked *