यौन शोषण मामला: पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी गिरफ्तार

NH DESK-JHARKHAND

सिटी रिपोर्टर जितेंद्र कुमार

पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी को झारखंड पुलिस की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार कर लिया गया है। आज सुबह दिल्ली-आगरा रोड से गिरफ्तार किया है। 16 अगस्त को सुनील तिवारी के खिलाफ अरगोड़ा थाने में नाबालिग के साथ दुष्कर्म छेड़छाड़ आदि के तहत प्राथमिकी दर्ज है।

रांची, : पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी को झारखंड पुलिस की स्पेशल टीम ने गिरफ्तार कर लिया गया है। सुनील तिवारी को आज सुबह दिल्ली-आगरा रोड से गिरफ्तार किया है। 16 अगस्त को सुनील तिवारी के खिलाफ अरगोड़ा थाने में नाबालिग के साथ दुष्कर्म, छेड़छाड़ और एसटी-एससी एक्ट के तहत प्राथमिकी दर्ज करायी गई थी। सुनील तिवारी पर बाल श्रम से जुड़े मामले में भी केस दर्ज कराया गया था। इस मामले को लेकर अग्रिम जमानत याचिका भी दायर की गई थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था।
25 अगस्त को सिविल कोर्ट ने जारी किया था वारंट
बता दें कि यौन शोषण के आरोपों से घिरे पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी के खिलाफ सिविल कोर्ट ने 25 अगस्त को वारंट जारी किया था। इससे पहले जांच अधिकारी के द्वारा कोर्ट में आवेदन दिया गया था, जिसके बाद रांची सिविल कोर्ट के अपर आयुक्त विशाल श्रीवास्तव की अदालत से सुनील तिवारी के खिलाफ वारंट जारी किया था।

क्या है आरोप

पूर्व मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार सुनील तिवारी पर उनके यहां काम करने वाली एक नाबालिग बच्‍ची के साथ यौन शोषण का आरोप है। यह आरोप बच्ची ने खुद लगाए हैं। इस मामले में नाबालिग ने अरगोड़ा थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। दरअसल, यह पूरा विवाद लगातार बढ़ रहा था। इस मामले में एक तरफ जहां पीड़ित के परिवार के सदस्‍यों के गायब होने के मामले में झारखंड हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया गया। वहीं दूसरी तरफ इस प्रकरण को लेकर जबदस्‍त राजनीति हो रही थी। मुख्‍य विपक्षी दल भाजपा की ओर से इसे राजनीतिक साजिश करार दिया गया। वहीं इस मामले में झारखंड के राज्‍यपाल की ओर से राज्‍य के डीजीपी को तलब किया गया था। उन्होंने केस की जानकारी लेते हुए कहा था कि इस केस में किसी निर्दोष व्‍यक्ति के खिलाफ कार्रवाई नहीं होनी चाहिए।

Review यौन शोषण मामला: पूर्व सीएम बाबूलाल मरांडी के सलाहकार सुनील तिवारी गिरफ्तार.

Your email address will not be published. Required fields are marked *