रेलवे के 13 लाख कर्मचारियों को बड़ा झटका, वेतन में 35% तक होगी कटौती, महंगाई भत्ते समते कई सुविधाओं पर रोक

देश में जब से कोरोना वायरस (Coronavirus) फैलना शुरू हुआ है, तब से यहां की आर्थिक स्थिति (Financial Condition) बिगड़ती जा रही है। कोरोना को फैलने से रोकने के लिए यहां पर 3 मई तक के लिए लॉकडाउन (Lockdown) लगा दिया गया है। जिससे प्राइवेट सेक्टर ( Private Sector) के साथ-साथ सरकारी कर्मचारियों को भी कई तरह की आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। शुक्रवार को आरबीआई (RBI) ने रिवर्स रेपो रेट घटाया था। जिसका असर बैंक पड़ेगा। इसी तरह अब खबर आई है कि भारतीय रेलवे ने अपने कर्मचारियों के वेतन, भत्ते समेत कई सुविधाओं पर रोक लगाने का फैसला लिया है। जाहिर है रेलवे ने लॉकडाउन के बीच हो रहे घाटे के चलते ऐसा किया है।

खबरों के मुताबिक, भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने कोरोनावायरस लॉकडाउन (Lockdown) के चलते रेलवे को हो रहे घाटे की भरपाई के लिए 13 लाख कर्मचारियों के भत्ते पर रोक लगाने का फैसला किया। रेल मंत्रालय ने 13 लाख से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों के वेतन और भत्ते पर रोक लगाने की योजना बनाई है। जिसके तहत टीए और डीए सहित ओवरटाइम (Overtime) ड्यूटी के भत्ते को समाप्त किया जाएगा।

इसके अलावा रेल मंत्रालय ने रेलवे लोको पायलट (Loco Pilot) और गार्ड को ट्रेन चलाने पर प्रति किलोमीटर के हिसाब से मिलने वाला भत्ते पर भी रोक लगाने की योजना बनाई है। इसके अलावा रेलवे पहले ही आर्थिक तंगी से गुजर रहा था जिसके चलते अब ओवरटाइम ड्यूटी (Duty) के लिए मिलने वाले भत्ते में 50 फीसदी की कटौती करने का फैसला किया है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने 6 महीने तक इन सभी वेतन और भत्तों पर रोक लगाने की सिफारिश की है। इसके अलावा 10 फीसदी से 35 फीसदी तक वेतन में कटौती करने का फैसला किया गया है। इसके अलावा अन्य जो सुविधाएं (Facilities) मिलती हैं। उनमें 50 फी सदी की कटौती की जाएगी।

Review रेलवे के 13 लाख कर्मचारियों को बड़ा झटका, वेतन में 35% तक होगी कटौती, महंगाई भत्ते समते कई सुविधाओं पर रोक.

Your email address will not be published. Required fields are marked *