लॉकडाउन के कारण प्रधानमंत्री को भी रेस्टोरेंट में नहीं जानें दिया

-NH Special Desk

आपने अक्सर देखा होगा कि अपने देश में अगर कोई छुटभैय्या नेता भी अगर रेस्टोरेंट या कैफे पहुंचता है तो उसकी आवभगत कुछ अलग तरीके से ही होती है। लेकिन यहां हम आपको एक ऐसा वाकया बता रहे हैं जिसे पढ़कर आप भी हैरान रह जाएंगे। जी हां, मामला न्यूजीलैंड का है। यहां सामाजिक दूरी के नियम के साथ रेस्तरां और कैफे को खोलने की अनुमति दी गई है और इन नियमों के कारण प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न को भी एक रेस्तरां में कोई विशेष छूट नहीं मिली और उन्हें वापस लौटना पड़ा।

जैसिंडा अपने मंगेतर क्लार्क गेफोर्ड के साथ शनिवार शाम को राजधानी वेलिंगटन स्थित ऑलिव रेस्तरां में गई थीं लेकिन नियमों के तहत रेस्तरां में एक मीटर की दूरी बनाना जरूरी है। इसके मद्देनजर कई रेस्तरां ने मेहमानों की क्षमता को कम कर दिया है। इसके बाद क्या हुआ इसकी जानकारी रेस्तरां में मौजूद एक व्यक्ति ने ट्विटर पर दी।

जोय नाम के यूजर ने ट्वीट किया, ‘‘हे भगवान जैंसिडा अर्डर्न ने ऑलिव में प्रवेश करने की कोशिश की लेकिन जगह नहीं होने की वजह से उन्हें मना कर दिया गया। गेफोर्ड ने बाद में जवाब दिया, ‘‘मुझे इसकी जिम्मेदारी लेनी चाहिए, मैं अन्य स्थान पर बुकिंग की व्यवस्था नहीं कर सका। जब कोई जगह खाली होती उसको पाने की कोशिश करना बहुत अच्छा लगता है।”

जब इस घटना पर अर्डर्न की टिप्पणी के बारे में पूछा गया तो उनके कार्यालय ने ई-मेल में बताया कि वायरस की वजह से न्यूजीलैंड में लगी पाबंदियों के कारण कैफे के बाहर इंतजार करना कुछ ऐसा है जिसका सभी को अनुभव हो रहा है। प्रधानमंत्री ने कहा कि वह अन्य लोगों की तरह इंतजार कर रही थीं। गौरतलब है कि कोरोना वायरस से निपटने में अर्डर्न की तीव्र और निर्णायक फैसले की बड़े पैमाने पर प्रशंसा हो रही है।

 

 

Review लॉकडाउन के कारण प्रधानमंत्री को भी रेस्टोरेंट में नहीं जानें दिया.

Your email address will not be published. Required fields are marked *