सिरोही आबूरोड में बहुचर्चित दीपक कुमार हत्याकाण्ड मामला

अरविंद कुमार।

सिरोही आबूरोड में बहुचर्चित दीपक कुमार हत्याकाण्ड होने और दो आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद परिजन शव उठाने को तैयार हुए। अस्पताल की मोर्चरी में रखे गए शव का रविवार को 109 घंटे बाद अंतिम संस्कार किया गया। न्यायालय के आदेश पर आरोपियों को 4 चार दिन की पुलिस रिमांड पर सौंपा गया। इस मामले की जांच एससी-एसटी सैल के डीएसपी दिनेश कुमार को सौंपीं गई है। रिमांड अवधि के दौरान प्रेम प्रसंग, हत्या की योजना कहां और किस-किस ने मिलकर बनाई आदि जानकारियां सामने आएगी तथा जीप व कार की बरामदगी की जाएगी। शनिवार को एसपी धर्मेंद्र सिंह भी आबूरोड पहुंचे और शाम को रेलकर्मी की हत्या के मामले में शांतिलाल पुत्र प्रभु राम भाट निवासी स्वरूपगंज व मुकेश सिंह पुत्र गुलाब सिंह राजपूत निवासी स्वरूपगंज को गिरफ्तार किया। पुलिस आरोपियों से अन्य लोगों की संलिप्तता के बारे में पूछताछ कर रही है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को न्यायालय पेश किया, जहां से उन्हें 4 दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया। एससी-एसटी के सेल के डीएसपी दिनेश कुमार ने बताया कि रिमांड के दौरान मामले में और भी अधिक जानकारियां सामने आएगी। मंगलवार रात से चले इस घटनाक्रम में रविवार की सवेरे करीब 10.30 बजे रेलकर्मी का 109 घंटे बाद अंतिम संस्कार किया गया।

 

Review सिरोही आबूरोड में बहुचर्चित दीपक कुमार हत्याकाण्ड मामला.

Your email address will not be published. Required fields are marked *