रिश्वत का खेल, भारी रूपे बरामद

जोधपुर.
भ्रष्टाचार में लिप्त सरकारी अफसर व कर्मचारियों के साथ ही मध्यस्थों के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो एक्शन मूड में है। ब्यूरो ने पिछले दो दिन में भ्रष्टाचार के तीन मामलों में कार्रवाई कर पांच जनों को गिरफ्तार कर 30.67 लाख रुपए जब्त किए।

एसीबी के उप महानिरीक्षक डॉ विष्णुकांत का कहना है कि भ्रष्ट अधिकारी व कर्मचारियों पर एसीबी लगातार कार्रवाईयां कर रही है। बीते दो दिन में तीस लाख रुपए जब्त किए जा चुके हैं। जो काफी बड़ी कार्रवाई है।

एइएन से 5 लाख रुपए घूस व 5.68 भ्रष्टाचार के जब्त
गत 28 जुलाई को एसीबी ने बाड़मेर के धोरीमन्ना में पंचायत समिति के सहायक अभियंता सोहनलाल जांगिड को 5 लाख रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। सरकारी आवास की तलाशी लेने पर 5.68 लाख रुपए जब्त किए गए थे। इस संबंध में आय से अधिक सम्पत्ति अर्जित करने का मामला दर्ज हो सकता है।

आरएएस साक्षात्कार में घूस के 19.95 लाख रुपए जब्त
इधर 29 जुलाई को आरएएस भर्ती-2018 में साक्षात्कार में 70 प्रतिशत अंक हासिल करने के लिए एक अभ्यर्थी के चाचा ने सरकारी प्राचार्य के मार्फत एक पीटीआइ को 20 लाख रुपए दिए थे, लेकिन साक्षात्कार में 54 प्रतिशत ही अंक आए। पीटीआइ ने दोनों को घूस के रुपए लौटा दिए थे, लेकिन कल्याणपुर में एसीबी ने अभ्यर्थी के चाचा ठाकराराम व प्राचार्य जोगाराम को पकड़ लिया था। इनसे 19.95 लाख रुपए जब्त किए गए थे। मध्यस्थ किशनाराम को भी गिरफ्तार किया था।

पटवारी भी गिरफ्त में
29 जुलाई को बाड़मेर की शिव तहसील के बीसू कलां में जमीन का म्युटेशन भरने की एवज में चार हजार रुपए रिश्वत लेते बीसू कला के पटवारी रतनलाल को गिरफ्तार किया गया था।

Review रिश्वत का खेल, भारी रूपे बरामद.

Your email address will not be published. Required fields are marked *