नवोदय विद्यालय के पूर्व छत्रों नें मनाया सिल्वर जुबली

-NH Desk ,MP

जवाहर नवोदय विद्यालय चुरहट के पूर्व के विद्यार्थियों की शनिवार को सतना के मारवाड़ी सेवा सदन में एल्युमिनाई मीट का आयोजन किया गया। इसमें जवाहर नवोदय विद्यालय के प्रथम बैच के अलावा भी तमाम पुराने छात्र 25 वर्षों बाद एक दूसरे से मिले और एक दूसरे का हाल चाल जाना। साथ ही अपनी उपलब्धियों के साथ स्कूली दिनों की खट्टी-मीठी यादें ताजा की।

इस दौरान अगस्त माह में मनोज नामदेव और सतना सिविल लाइन  टीआई अर्चना द्विवेदी के प्रयास से नवोदय विद्यालय में प्रथम बैच के सिल्वर जुबली सेलिब्रेशन के आयोजन की रूपरेखा तय की गई। साथ ही 5 सितंबर को शिक्षक दिवस होने के कारण गुरु शिक्षको को भी आमंत्रित किया गया था जिसमे आर ए सिंह और अजय श्रीवास्तव सर ने भी कार्यक्रम में शिरकत कर कार्यक्रम की शोभा बढ़ाते हुए अपने पुराने विद्यार्थियों को आशीर्वाद प्रदान किया ।

मुंबई से आये प्रथम बैच के विद्यार्थी रहे अनुपम तिवारी ने कहा कि नवोदय से पढ़कर निकले विद्यार्थी आज हर क्षेत्र में नाम कमा रहे हैं। राजनीति, प्रशासन, सैन्य सेवाओं से लेकर विभिन्न प्रोफेशनल सेवाओं, विजिनेस एवं सामाजिक सेवाओं में भी अपना अलग मुकाम बनाया। नवोदय विद्यालय से निकले 25 साल हो गए पर अभी भी वही लगाव और अपनत्व बरकरार है। वही अर्चना द्विवेदी ने कहा कि नवोदय विद्यालय में शिक्षा भले ही निश्शुल्क है, पर संस्था से निकले विद्यार्थी समाज को उससे ज्यादा योगदान दे रहे हैं। नवोदय अपने नाम के अनुरूप ही समाज में नव उदय को प्रोत्साहित कर रहा है। साथ ही राम शिरोमणि तिवारी, रामकृपाल ने भी अपने अपने विचार रखे।इस मौके पर पहले दोनों गुरु जानो को शाल भेंट कर  सम्मानित किया गया और पुराने साथी स्व.  दुर्गेश मिश्रा और मैडम स्व. सरोज शुक्ला की आकस्मिक  मृत्यु पर 2 मिनट का मौन रख श्रद्धांजलि दी गई। उपस्थित साथियों एक ऐसे फण्ड जी जरूरत महसूस की गई जिसमें नवोदय के साथियों को जरूरत के वक़्त काम आ सके। जिसकी शुरुआत  करते हुए  नित्यानंद मिश्रा द्वारा उसमे 21 हजार का चेक  देने को कहा गया ।कार्यक्रम का संचालन अजय पटेल द्वारा किया गया।सभी पुराने साथी पुरानी यादों में खो गए और रात भर मौज मस्ती के साथ मिलन समारोह चलता रहा  ।और फिर मिलने के वादे के साथ रविवार को सब अपने अपने घर के लिए रवाना हो गए।कुछ साथी विदेशों में और कुछ व्यस्त रहने के  कारण न आ पाने का मलाल मानते दिखे लेकिन कार्यक्रम पर वीडियो कालिंग से बराबर नजर बनाए हुए थे।इस कार्यक्रम में चंडीगढ़ से आये नित्यानंद मिश्रा, इलाहाबाद से आये सुशील एवं राधिका सिहावल से आये डॉ संजय पटेल और सीधी से पुष्पराज सिंह का भी योगदान बराबर रहा।साथ ही दीपक सिंह,यज्ञनारायण गुप्ता, नरेंद्र पांडेय, के.के.शुक्ला,सुंदर लाल, आराधना शर्मा, संदीप द्विवेदी,राकेश मिश्रा,डॉ उमेश, सिंह,अजय, जगमोहन, दिनेश साकेत,सुखेन्द्र मिश्रा एवं जूनियर बैच के नितिन जायसवाल, बिहार से आये उमेश सिंह, मिर्जापुर से ओमप्रकाश सिंह, रीवा के दिवाकर आदि लगभग 50  सभी सीनियर, जूनियर नवोदय के छात्र उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *