हिंदी पखवाड़ा के अंतर्गत एक दर्जन साहित्यकार पुरस्कृत

बाराबंकी। अवधी के विकास में बाराबंकी जनपद के साहित्यकारों, सतनामी संतो के काव्य, संत कवि बैजनाथ कुर्मी की रचनाओं, गुरुप्रसाद सिंह मृगेश के रचना संसार की महत्वपूर्ण भूमिका है।

उक्त विचार साहित्यकार समिति, आँखें फाउण्डेशन व अवध भारती संस्थान द्वारा संयुक्तरूप से आयोजित अभिनंदन एवं सम्मान समारोह की अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रपति पुरस्कार विजेता डॉ राम बहादुर मिश्र ने व्यक्त किये।

समारोह के प्रथम सत्र में पूर्व कैबिनेट मंत्री अरविंद कुमार सिंह गोप, का सारस्वत अभिनंदन साहित्यकारों द्वारा अंगवस्त्र, स्मृति चिन्ह, व अभिनंदन पत्र प्रदान कर किया गया। अभिनंदन पत्र का वाचन कवि कुमार पुष्पेंद्र द्वारा किया गया।

द्वितीय सत्र की मुख्य अतिथि सांसद उपेन्द्र सिंह रावत की पत्नी उर्मिला रावत ने पुरुस्कार पाने वाले साहित्यकारों को शुभकामनाएं तथा आयोजकों को बधाई देते हुए कहा कि ऐसे आयोजनों से जनपद का मान बढ़ता है।


डॉ राम शंकर यादव प्राचार्य जनेस्मा पी जी कालेज ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि साहित्यकार धन के पीछे साहित्य के मूल भूत सिद्धांतों से न भटकें। साहित्य सृजन अपरोक्ष रूप से सृष्टि सृजन ही है।

इस अवसर पर प्रदेश के जाने-माने साहित्यकारों को अवधी साहित्य सेवा के लिए डॉ “भन्नू सिंह” स्मृति काशिमशाह पुरस्कार योगेन्द्र मधुप को, पत्रकार हरि प्रसाद वर्मा स्मृति संत गोंसाई दास पुरस्कार रजनी श्रीवास्तव निशा को, राम समुझ वर्मा स्मृति सन्त देवीदास पुरस्कार आदर्श गुलसिया को, मास्टर भगौती प्रसाद वर्मा स्मृति संत जगजीवन दास पुरस्कार प्रेम नारायण वर्मा प्रेम को, सन्त कवि बैजनाथ पुरस्कार डॉ बलराम वर्मा को, मायाभट्ट स्मृति गुरुप्रसाद सिंह “मृगेश” पुरस्कार आराध्य शुक्ला को, डॉ एस एस वर्मा स्मृति करुणा शंकर बदनाम पुरस्कार डॉ ऊषा चौधरी को, महावीर साहब स्मृति अयोध्या प्रसाद दीक्षित “शिष्य” पुरस्कार सरोज सिंह को, डॉ भगवान वत्स भाषाविद पुरस्कार डॉ राजेश मल्ल को, सियाराम यादव स्मृति राय राजेश्वर बली पुरस्कार लोक गायिका पूजा पाण्डेय को, प्रेम चंद्र वर्मा स्मृति बृजलाल भट्ट बृजेश पुरस्कार डॉ अम्बरीष अम्बर को, जंगबहादुर स्मृति महेश दत्त शुक्ल पुरस्कार पंकज कँवल को प्रदान किया गया। सांसद उपेन्द्र सिंह रावत की माता सरोजनी देवी की स्मृति में 25 हजार रुपये का पुरस्कार अवध ज्योति पत्रिका को दिया गया। ग्रीन गैंग पर्यावरण सेना द्वारा अतिथियों व पुरस्कार प्राप्त कर्ताओं द्वारा तुलसी का पौध गमला सहित भेंट किया गया।


समारोह में स्वरोही म्यूजिकल ग्रुप की पूजा पाण्डेय द्वारा अवधी गीत प्रस्तुत किये गए। प्रदीप सारंग के संचालन में सम्पन्न समारोह में डॉ श्याम सुन्दर दीक्षित, डॉ विनय दास, डॉ राजेश मल्ल, सौम्या भट्ट, जिला पंचायत सदस्य नेहा आनंद, ब्लाक प्रमुख हरख रवि रावत ने भी विचार व्यक्त किये।
समारोह में सदानन्द वर्मा, डॉ सुधीर वर्मा, चंद्र किशोर वर्मा, इंजीनियर अरुण वर्मा, सुरेश बहादुर सिंह कौशिक, धीरेंद्र चौधरी, महेंद्र वत्स, दिनेश सिंह, गनेश यादव, दीपक सिंह, मीनाक्षी त्रिपाठी, प्रताप सिंह, अवशेष वर्मा, सुजीत चतुर्वेदी, डी के शुक्ला, प्रदीप तिवारी, पप्पू अवस्थी विशेष रूप से उपस्थित रहे।

Review हिंदी पखवाड़ा के अंतर्गत एक दर्जन साहित्यकार पुरस्कृत.

Your email address will not be published. Required fields are marked *