डीएवी स्कूल में अमृत महोत्सव मनाया गया

NH DESK-JHARKHAND

जिला संवाददाता जितेंद्र कुमार

 

रांची।आज दिनांक 23 नवंबर2021 को डीएवी पब्लिक स्कूल हेहल के सभागार में झालसा प्राधिकरण के तत्वाधान में प्रातः 10:00 पॉक्सो कानून की जानकारी हेतु सेमिनार सह सलाहकार मंडल परिचर्चा का आयोजन किया गया।

इस कार्यक्रम में डीएवी स्कूल द्वारा  पोक्सो एक्ट के बारे में समझाया गया। इस कार्यक्रम में अभिभावक गण तथा शिक्षण गण उपस्थित थे। पोक्सो एक्ट  एक क्या है और इससे कब इस्तेमाल करना है इसके बारे में विस्तृत से जानकारी दी गई

क्या है पोक्सो एक्ट आईए समझते हैं

यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण करने के लिए पोक्सो (POCSO) जिसका पूरा नाम है The Protection Of Children From Sexual Offences Act (प्रोटेक्शन आफ चिल्ड्रेन फ्राम सेक्सुअल अफेंसेस एक्ट) अधिनियम बनाया गया है।

इस अधिनियम (कानून) को महिला और बाल विकास मंत्रालय ने साल 2012 पोक्सो एक्ट-2012 के नाम से बनाया था। इस कानून के जरिए नाबालिग बच्चों के प्रति यौन उत्पीड़न, यौन शोषण और पोर्नोग्राफी जैसे यौन अपराध और छेड़छाड़ के मामलों में कार्रवाई की जाती है। इस कानून के अंतर्गत अलग-अलग अपराध के लिए अलग-अलग सजा निर्धारित की गई है।

दीप प्रज्वलन के साथ कार्यक्रम की शुरुआत

दीप प्रज्वलन कार्यक्रम में गणमान्य अतिथियों ने भाग लिया। इनमें मनीष मिश्रा अपर सचिव झालसा,  तुषार कांति झा ,डिप्टी एसपी सेवानिवृत्त, डॉ अरुण कुमार शिशु चिकित्सक, प्रकृति सिन्हा, सहायक व्याख्याता सीआई पी ,  अभिनय प्रीत अधिवक्ता ने अपने विचारों से अभिभावकों एवं शिक्षकों को लाभान्वित किया।

 

उन्होंने संबंधित विषय में बारे में विस्तृत जानकारी दी

अपने उद्दबोधन में विद्यालय के प्राचार्य श्री एमके सिन्हा जी ने पॉक्सो कानून के विषय में लोगों को अवगत कराया। सेक्शन प्रभारी श्रीमती अनुराधा सिंह ने बाल कल्याण के लिए बाल सुरक्षा बाल एवं उनके सर्वांगीण विकास के लिए सतर्क रहने की बात कही।

दूरदर्शन के वरिष्ठ पत्रकार एवं समाचार प्रभारी

मधुकर जी ने सलाहकार समिति के साथ प्रश्नोत्तरी तैयार कर चर्चा की। कार्यक्रम का सफल संचालन मौसमी मजूमदार ने किया। धन्यवाद ज्ञापन  अनुपमा रानी द्वारा किया गया।

Review डीएवी स्कूल में अमृत महोत्सव मनाया गया.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love