टीकाकरण अभियान के छठे दिन 1,92,581 लोगों को टीका

देशव्यापी कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम छठे दिन भी सफलतापूर्वक आयोजित किया गया कोविड-19 से बचाव के लिए…

महिलाओं संबंधित मुद्दों के लिए समुदाय को लगातार जागरूक करने और उनके साथ खड़े रहने की जरूरत है:मंत्रालय

महिला और बाल विकास मंत्रालय के सचिव  राममोहन मिश्रा ने आज, महिला और बाल विकास मंत्रालय…

भारत ने सहजन पाउडर का निर्यात शुरू किया

सहजन (वैज्ञानिक नाम मोरिंगा ओलीफेरा) के उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा देने के लिए, एपीडा ऐसी…

शकरकंद और आलू में कौन है ज्‍यादा फायदेमंद, जानिए दोनों के पोषक तत्‍व

आप आलू और शकरकंद तो खाते ही होंगे! लेकिन क्या आप जानते हैं कि इन दोनों…

भारत में वायु प्रदूषण से 2019 में 1.16 लाख से ज्यादा शिशुओं की मौत हुई : अध्ययन

(आईएएनएस)। पहली बार नवजात शिशुओं पर वायु प्रदूषण के वैश्विक प्रभाव का व्यापक विश्लेषण करने से…

कृषि मंत्री ने लॉन्च किया 10 हजार करोड़ का आयुष्मान सहकार फंड

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने सोमवार को सहकारी समितियों द्वारा स्वास्थ्य सेवा का बुनियादी…

कोरोना से निपटने के लिए कर्फ्यू लगाएगा देश

(आईएएनएस)। बेल्जियम के प्रधानमंत्री अलेक्जेंडर डे क्रू ने परामर्श समिति की बैठक के अंत में कोविड-19 के…

कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है, स्वच्छता से बचाव सम्भव- डीएम

जिलाधिकारी ने ग्लोबल हैंड वॉश डे के मौके पर हाथ धुल कर स्वच्छता अपनाने का दिया संदेेश, कलेक्ट्रेट में आयोजित हुआ कार्यक्रम।

अमेठी। ‘‘हाथ धोना रोके कोरोना’’ के संकल्प के साथ ग्लोबल हैंडवॉश दिवस के मौके पर जिले के सभी सरकारी कार्यालयों हाथ धुलाई कार्यक्रम आयोजित हुआ। कलेक्ट्रेट में जिलाधिकारी श्री अरुण कुमार, मुख्य विकास अधिकारी डॉ अंकुर लाठर, अपर जिलाधिकारी वंदिता श्रीवास्तव सहित अन्य अधिकारियों-कर्मचारियों ने मास्क लगाकर, सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करते हुए हाथ धुलकर स्वच्छता का संदेश दिया। इस मौके पर जिलाधिकारी ने कहा कि कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है। इसलिए हम सबको अभी पूरी सावधानी बरतनी है। उन्होंने कहा कि हाथ धुलने से सिर्फ कोरोना वायरस से ही नहीं बल्कि तमाम संक्रामक जनित बीमारियों से निजात मिलती है। इसलिए हम लोगों को इसे आदत में अपनाना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमारे हाथों में असंख्य वायरस व हानिकारक जीवाणु छिपे होते हैं, जिन्हें हम देख नहीं सकते हैं, वे वायरस व कीटाणु हमारे शरीर में प्रवेश कर हमें बीमार कर देते हैं। इसलिए जागरूक होकर हमें नियमित हाथ धोने की आदत डालनी चाहिए जिससे हम तमाम बीमारियों से बच सकते हैं और अच्छा स्वास्थ्य भी प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वाॅयरस संचारी संक्रमण काल में स्वच्छता के साथ-साथ हाथ धोकर ही भोजन या अन्य चीजें ग्रहण करना सबसे अहम विषय है। हाथ न धुलने से नाखूनों में व हाथों में व्याप्त गंदगी भोजन के माध्यम से शरीर में पहुंचती है जिससे विभिन्न प्रकार के गंभीर बीमारियों से लोगों को ग्रसित कर लेती है। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने उपस्थित कर्मचारियों व दफ्तर में अपने-अपने कामों को लेकर आए दूरदराज के ग्रामीणों के बीच हाथ धोकर इस महा स्वच्छता कार्यक्रम में लोगों को जागरूकता के साथ प्रेरित भी किया। इसी कड़ी में विकास भवन में मुख्य विकास अधिकाकरी डा. अंकुर लाठर की उपस्थिति में हाथ धुलाई कार्यक्रम आयोजित हुआ जिसमें विकास भवन के सभी अधिकारियों/कर्मचारियों ने हाथ धुलकर स्वच्छता का संदेश दिया। मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ आशुतोष दुबे की उपस्थिति में सीएमओ कार्यालय, जिला अस्पताल सहित जनपद के सभी सीएचसी/पीएचसी में हाथ धुलाई कार्यक्रम आयोजित हुआ। इसी प्रकार जनपद के सभी सरकारी कार्यालयों में हाथ धुलाई कार्यक्रम आयोजित हुआ। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कलेक्ट्रेट परिसर से 2 पानी के टैंकर को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया, पानी के टैंकरों में हाथ धोने के लिए हैंडवॉश, साबुन व प्रचार सामग्री उपलब्ध है, ये पानी के टैंकर नगर के विभिन्न क्षेत्रों में जाकर लोगों को हाथ धुलने व कोविड 19 से बचाव के संबंध में जागरूक करेंगे।

अब कोरोना इलाज में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की जगह कांगड़ा चाय

-NH Desk,New Delhi कोविड-19 से लड़ने के लिए संशोधित प्रोटोकॉल में इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च…

बाराबंकी में “सहकारी सामुदायिक रसोई” नें बांटे भोजन पैकेट

-NH Desk,Barabanki        कोविड-19 वैश्विक महामारी से जंग में पूरे देश में लोगो को…