मुख्यमंत्री ने बांटे नियुक्ति पत्र 230 युवाओं को मिला नौकरी

NH DESK-JHARKHAND

सिटी रिपोर्टर: जितेंद्र कुमार/नीरज कुमार

झारखंड सरकार के कल्याण विभाग और प्रेझा फाउडेशन के संयुक्त प्रयास से संचालितकल्याण गुरुकुल से ट्रेंड युवाओं को सीएम हेमंत सोरेन ने प्रमाणपत्र प्रदान किया. प्रोजेक्ट भवन में आयोजित प्रमाण पत्र वितरण कार्यक्रम में खूंटी और जमशेदपुर में संचालित कल्याण गुरुकुल के 230 ट्रेंड युवाओं को प्रमाणपत्र देते हुए सीएम हेमंत सोरेन ने कहा कि राज्य सरकार बेरोजगारी दूर करने को लेकर प्रतिबद्ध है. अब तक राज्य सरकार ने विभिन्न माध्यमों से हजारों युवाओं को नौकरी दी है. जल्द ही रुकी हुई तमाम नियुक्तियां पूरी कर ली जायेगी.

स्वरोजगार पर भी दें ध्यान

सीएम ने कहा कि हाथ में हुनर हो तो केवल नौकरी पर ही ध्यान न दें. नौकरी के साथ-साथ आप चाहें तो स्वरोजगार पर भी जोर दें. राज्य सरकार आपके लिए सदैव कड़ी है. आपको सीएमइजीपी के माध्यम से 25 लाख तक का लोन उपलब्ध कराया जायेगा. और इस लोन पर सब्सिडी भी दी जायेगी. आप चाहें तो अपने ट्रेनिंग के अकोर्डिंग आपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं.

प्रशिक्षण के साथ रोजगार देना ध्येय

इस दौरान कल्याण विभाग सचिव केके सोन ने कहा कि  प्रेज्ञा फाउंडेशन के कल्याण गुरुकुल के माध्यम से जो ट्रेनिंग दी जाती है उसका मकसद केवल ट्रेनिंग देना भर ही नहीं है. ट्रेंड युवाओं को रोजगार भी देना हमारा ध्येय है. आज खूंटी और जमशेदपुर के कल्याण गुरुकुल से ट्रेंड युवाओं को सर्टिफिकेट दिया जा रहा है.

हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार इस साल नियुक्ति का साल मना रही है उन्होंने कहा कि स्थायी नियुक्ति के साथ-साथ राज्य सरकार युवाओं को कौशल युक्त बनाने पर भी ध्यान दे रही है. कल्याण गुरुकुल इसी का उदाहरण है. आज वेल्डिंग, प्लाम्बरिंग, कारपेंटरी जैसे हार से तरासे गये युवा प्रमाण पत्र ले रहे हैं. वे न केवल प्रमाणपत्र ले रहे है बल्कि इसी माध्यम से उन्हें न्यूनतम 15 हजार रुपये की नौकरी भी दी जा रही है.

 

 

प्रेझा फाउंडेशन एक गैर लाभकारी संस्था है, जिसके तहत अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक, पिछड़े वर्ग और नक्सल प्रभावित क्षेत्र के युवाओं को तकनीकी प्रशिक्षण देकर रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है. पूरे राज्य में 26 कल्याण गुरुकुल संचालित हैं. इन गुरुकुलों में 12 ट्रेड में प्रशिक्षण दिया जा रहा है. कल्याण गुरुकुल से अब तक 569 युवाओं को विदेश में नियोजित किया गया है.

विभागीय मंत्री चम्पई सोरेन ने कहा कि आज जो कार्यक्रम आयोजित किया गया है वो एक उदाहरण है. यह सुदूर गांव के युवाओं को जागरूक करेगी. हमारे राज्य में युवाओं कू बड़ी संख्या है. और अच्छी बात है कि हमारे युवा मेहनती हैं. राज्य सरकार की ओर से चलाया जा रहा यह कार्यक्रम युवाओं को हुनरमंद बना रहा है. न केवल प्रशिक्षण के बाद प्रमाणपत्र बल्कि नौकरी भी हाथोहाथ मिल रही है.

 

आज के कार्यक्रम में कल्याण विभाग के सचिव केके सोन, सीएम के प्रधान सचिव विनय चौबे, मुख्य सचिव सुखदेव सिंह उपस्थित थे.

Review मुख्यमंत्री ने बांटे नियुक्ति पत्र 230 युवाओं को मिला नौकरी.

Your email address will not be published. Required fields are marked *