रात 8 बजे तक सभी दुकानें बंद करने की बाध्यता समाप्त

NH DESK-JHARKHAND

जिला संवाददाता जितेंद्र कुमार

राँची।

झारखण्ड में कई महीने से सरकार ने कोरोना संक्रमण को लेकर लगाए गए सन्डे लॉकडाउन में एक बड़ा निर्णय लिया है।अब रविवार को विगत कई महीनों से चल रहे लॉकडाउन को अब पूरी तरह से खत्म कर दिया गया है।यानी अब रविवार को भी राज्य में मार्केट और मॉल पूर्व की भांति खुल सकेंगे।

यह फैसला मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के अध्यक्षता में प्रोजेक्ट भवन में हुई राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में लिया गया है।बैठक में स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मुख्य सचिव सुखदेव सिंह सहित कई आला अधिकारी उपस्थित थे।बैठक का एक अहम फैसला यह भी हुआ है कि अब रात 8 बजे सभी दुकानों को बंद करने की  बाध्यता को भी पूरी तरह से समाप्त कर दिया गया है।

स्वास्थ्य एवं आपदा मंत्री बन्ना गुप्ता ने प्रेस कांफ्रेंस कर बताया कि कोरोना की स्थिति को देखा जा रहा है।उन्होंने कहा कि अभी स्कूलों में जो पहले से कक्षा चल रहा था,वहीं रहेगा। 8 वीं कक्षा से ऊपर की पढ़ाई हो सकेगी।बन्ना गुप्ता ने बताया कि बच्चों की सुरक्षा को सर्वोपरि रखा गया है।

कोचिंग इंस्टीच्यूट को लेकर फैसला लिया गया है कि अब किसी तरह का उम्र की बाध्यता नहीं होगी।पहले 18 साल के ऊपर के बच्चों को ही कोचिंग जाने की इजाजत थी , लेकिन अब इसकी उम्र की बाध्यता समाप्त हो गयी है और अब किसी भी उम्र के बच्चे को कोचिंग जाने की इजाजत होगी।कोचिंग संस्थानों को खोल दिया गया है।

वहीं मेला,प्रदर्शनी पर रोक को बरकरार रखी गयी है।आंगनबाड़ी केंद्र के आइसीडीएस में सेविका महिलाओं को दोनों टीका लेने के बाद ड्यूटी पर आने की इजाजत दी गयी है।स्वास्थ्य मंत्री ने यह भी बताया कि काली पूजा में भोग का वितरण होम डिलीवरी होगी। पंडालों से इसको नहीं बांटा जायेगा।मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा है कि कोरोना अभी खत्म नहीं हुआ है। इस कारण दिपावली,धनतेरस और छठ घाट में कोरोना का ख्याल रखते हुए ही पर्व को मनाया जाय।

 

Review रात 8 बजे तक सभी दुकानें बंद करने की बाध्यता समाप्त.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love