मृत्यु भोज के बाद 17 बीमार

छत्तीसगढ़ के बिलासपुर जिले में दशगात्र कार्यक्रम में कथित रूप से भोजन करने के बाद 17 लोग बीमार हो गए । अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी ।

बिलासपुर जिले के अधिकारियों ने सोमवार को यहां बताया कि जिले के कोटा विकास खंड के अंतर्गत आमामुड़ा गांव में दशगात्र (मृत्यु के बाद दसवें दिन होने वाला कार्यक्रम) कार्यक्रम में कथित रूप से भोजन करने के बाद 17 ग्रामीण बीमार हो गए ।

कोटा क्षेत्र के अनुविभागीय दंडाधिकारी तुलाराम भारद्वाज ने बताया कि कोटा थाना क्षेत्र के अंतर्गत आमामुड़ा गांव में शनिवार को एक दशगात्र कार्यक्रम था। इस कार्यक्रम में भोजन के लिए ग्रामीण बड़ी संख्या में यहां पहुंचे थे।

भारद्वाज ने बताया कि कार्यक्रम में भोजन के बाद कई लोगों ने तबीयत बिगड़ने की शिकायत की। गांव में बड़ी संख्या में लोगों की तबीयत खराब होने की सूचना के बाद रविवार को स्वास्थ्य विभाग का दल गांव पहुंचा और लोगों का उपचार किया गया।

उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य विभाग ने इस दौरान 17 ग्रामीणों को रतनपुर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, जहां से सात लोगों को बेहतर इलाज के लिए बिलासपुर शहर के छत्तीसगढ़ आयुर्विज्ञान संस्थान (सिम्स)में भर्ती कराया गया है।

सिम्स की जनसंपर्क ​अधिकारी डॉक्टर आरती पांडेय ने बताया कि विषाक्त भोजन के कारण सात लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सभी का इलाज किया जा रहा है। सभी की हालत स्थिर बनी हुई है।

एसडीएम भारद्वाज ने बताया कि आमामुड़ा गांव में एक महिला की मौत की सूचना है, लेकिन वह दशगात्र कार्यक्रम में शामिल थी कि नहीं इसकी पुष्टि नहीं हुई है। मामले की जांच के लिए क्षेत्र के तहसीलदार को वहां भेजा गया है।

वहीं जिले के मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर प्रमोद महाजन ने बताया कि सोमवार को भी गांव में चिकित्सा शिविर लगाकर ग्रामीणों के स्वास्थ्य की जांच की जा रही है।

Review मृत्यु भोज के बाद 17 बीमार.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love