पूर्व विधायक कमल किशोर भगत की संदेहास्पद स्थिति‍ में मौत

NH DESK-JHARKHAND

लोहरदगा। आजसू पार्टी के पूर्व विधायक कमल किशोर भगत की संदेहास्पद स्थिति‍ में 17 दिसंबर को मौत हो गई। उनकी पत्‍नी नीरू शांति भगत की स्थिति गंभीर बनी हुई है। उन्‍हें इलाज के लिए अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है।

दिवंगत भगत लोहरदगा से दो बार विधायक चुने गये थे। वह झारखंड आंदोलनकारी भी थे। घर में वह और पत्‍नी एक की बेड पर पड़े थे। नीरू बेहोशी की हालत में पाई गई। घर का दरवाजा तोड़कर दोनों को निकाला गया। इसके बाद दोनों को सदर अस्पताल लाया गया।

अस्‍पताल लाये जाने पर जांच के बाद डॉक्‍टरों ने पूर्व विधायक की मौत की पुष्टि कर दी। पत्‍नी नीरू बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया। वह अब भी मूर्छित पड़ी है। उन्‍हें रांची अपोलो हॉस्पिटल पहुंचाया जा रहा है।

ज्ञात हो कि कमल किशोर की तबीयत कुछ दिनों से खराब चल रही थी। फिलहाल वह स्‍वस्‍थ्‍य थे। उन्‍होंने प्रेस से बात भी की थी। 4 दिन पहले बातचीत में उन्‍होंने कहा था कि मैंने जरूर कुछ अच्छा काम किया था, इसलिए जिंदा बचा हूं। वर्ना 1 सप्ताह पहले ही रिम्‍स ले जाने के क्रम में रास्ते में मेरी मौत हो जाती।

घटना के बारे में उनके छोटे भाई अजीत टाना भगत ने बताया कि‍ देर रात अच्छी तरह से दोनों खाना खाए। भैया और भाभी दोनों सो गए। सुबह जब दरवाजा नहीं खुला, तब उसने दरवाजा तोड़ा। देखा कि दोनों बेड पर मूर्छित पड़े हैं। तत्काल दोनों को हॉस्पिटल पहुंचाया गया। वहां कमल किशोर की मौत की पुष्टि की गई।

 

हालांकि उनकी मौत कैसे हुई है। इसका खुलासा अब तक नहीं हो पाया है। सूचना के मुताबिक डॉक्टरों की पांच सदस्यीय टीम का गठन कर वीडियो रिकॉर्डिंग के साथ दिवंगत कमल किशोर का पोस्टमार्टम किया जाएगा।घटना की जानकारी मिलते ही पूरे क्षेत्र में मातम छा गया। लोग जिस भी हाल में थे, उनका देखने सदर अस्पताल पहुंचे।

Review पूर्व विधायक कमल किशोर भगत की संदेहास्पद स्थिति‍ में मौत.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love