भारत और इजराइल ने ‘नवोन्मेष समझौता’ किया

भारत और इजराइल ने ड्रोन, रोबोटिक, कृत्रिम बुद्धिमता और क्वांटम कंप्यूटिंग समेत अगली पीढ़ी की प्रौद्योगिकी और उत्पादों के संयुक्त रूप से विकास के लिए समझौता किया है जो उनके बीच बढ़ते रक्षा संबंधों का प्रतीक है। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

अधिकारियों ने बताया कि रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) तथा इजराइल के रक्षा अनुसंधान एवं विकास निदेशालय (डीडीआरऐंडडी) के बीच द्विपक्षीय नवोन्मेष समझौता (बीआईए) हुआ। उन्होंने बताया कि इस समझौते में स्टार्टअप और सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उपक्रमों (एमएसएमई) में अनुसंधान एवं विकास तथा नवोन्मेष का बढ़ावा देने का प्रावधान है ताकि वे दोहरे उपयोग वाली प्रौद्योगिकियों का विकास कर सकें।

रक्षा मंत्रालय ने समझौते को भारत और इजराइल के बीच बढ़ते प्रौद्योगिकी सहयोग का प्रतीक बताया। इस समझौते पर डीआरडीओ के अध्यक्ष जी सतीश रेड्डी और डीडीआरऐंडडी के प्रमुख डेनियल गोल्ड ने हस्ताक्षर किए।

Review भारत और इजराइल ने ‘नवोन्मेष समझौता’ किया.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love