जमशेदपुर में अपराधी बेलगाम, जनता त्राहिमाम

NH DESK-JHARKHAND

NEWS BY- JITENDRA KUMAR

जमशेदपुर, जागरण संवाददात। लौहनगरी जमशेदपुर के लोग गिरती विधि व्यवस्था को लेकर परेशान हैं। अपराधी बेलगाम हैं और जनता त्राहिमाम कर रही है। होना भी लाजिमी है। 72 घंटे के भीतर शहर और आसपास के क्षेत्र में बच्चे समेत चार की हत्या, चार लूट और फायरिंग की दो वारदात की घटना हुई। चोरी की तो गिनती ही नहीं है। अपराध रोकने को पुलिस की सक्रियता नहीं देखी गई। पुलिस से बेखौफ अपराधी वारदात को अंजाम दे रहे हैं।

10 सितंबर को मानगो के आजादनगर में निर्माणाधीन शॉपिंग मॉल पर बाइक सवार तीन अपराधियों ने फायरिंग की। मजदूरों से काम बंद करने को धमकी देते हुए भाग निकले। पुलिस जांच ही करती रह गई। देर रात सीतारामडेरा थाना क्षेत्र एचडीएफसी बैंक के पास अपराधियों ने पिस्तौल का भय दिखा व्यवसायी विश्वनाथ अग्रवाल से उनकी स्कूटी लूट ली। विरोध पर गोली मार देने की धमकी दी। स्कूटी में 4 लाख 80 हजार रुपये नकद थे। इस घटना के 15 मिनट के बाद गोलमुरी रिफ्यूजी कालोनी रोड नंबर तीन में व्यवसायी मनमोहन अग्रवाल की घर पर खुद को पुलिसवाला बताकर तीन बदमाश घुस गए। कहा आपकी स्कूटी से दुर्घटना हुई। आपको गोलमुरी थाना में बुलाया जा रहा है। जवाब में व्यवसायी ने कहा कि उनकी गाड़ी से किसी की दुर्घटना नहीं हुई। ऐसे कैसे साथ चले जाएं। कुछ शंका हुई। व्यवसायी ने गोलमुरी थाना के परिचित पुलिसकर्मी को मोबाइल से संपर्क करने का प्रयास किया। यह देख तीन अपराधियों में एक ने पिस्तौल निकाल ली। गोली लोड करने लगा। व्यवसायी की सीने पर पिस्तौल तान दी। इस बीच उनकी पत्नी भी आ गई। शोर मचाने पर अपराधियों ने दंपति से दो मोबाइल लूट ली। फंसता देख गोलियां चलाते हुए भाग निकले। अपराधियों की मंशा बंधक बनाकर लूटपाट करने की थी जो व्यवसायी के शोर मचाने के कारण पूरी नहीं हो सकी।  इससे पहले बागबेड़ा में नौ सितंबर को विहिप नेता बबलू सिंह पर अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग की थी। वह टीएमएच में दाखिल है।

Review जमशेदपुर में अपराधी बेलगाम, जनता त्राहिमाम.

Your email address will not be published. Required fields are marked *