आठ महीनें का बकाया मानदेय को लेकर पोषण सखी ने विधायक आवास पर एक दिवसीय भूख हड़ताल

जिला संवाददाता :- पवन कुमार वर्मा

गिरिडीह

झारखंड राज्य अतिरिक्त आंगनबड़ी सेविका सह पोषण सखी का आठ महिना का मानदेय बकाया को लेकर गुरुवार को गाण्डेय विधायक आवास के समक्ष एक दिवसीय भूख, हड़ताल किया गया|

 

इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए कई प्रखंड से पोषण सखी आई, इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सैबून ने कहा कि  सरकार के द्वारा क्या किया जा रहा है| जिसके कारण आठ महिना से मानदेय का भुगतान लंबित रखा गया है जो अमानवीय है बाध्य होकर आज की भुख हड़ताल की सफलता से झारखंड सरकार एंव केन्द्र सरकार को स्पष्ट संकेत देना चाहते है कि जिस प्रकार सरकारी कार्य लिया जा रहा है उसी प्रकार ससमय मानदेय भुगतान करना सुनिश्चित करें अन्यथा जोरदार आन्दोलन किया जाएगा|

और बताया की केन्द्र सरकार एक तरफ सरकार बेटी पढ़ाओ और बेटी बचाओ का नारा लगाती है और दूसरी तरफ बेटियों के ऊपर शोषण और अत्याचार कर रही है. इसे बर्दास्त नहीं किया जाएगा.पूरे देश जब कोरोना जैसी महामारी बिमारी से झूस रही थी तब गांव गांव जा कर सर्वे का काम किया गया मानदेय का भुगतान नहीं होने के चलते लगभग दस हजार पोषण सखी एवं उनका परिवार घोर आर्थिक संकट से गुजर रहा है। अब तो स्थिति यहां तक हो गई है कि इलाज के अभाव में दो पोषण सखी का देहांत भी हो चुका है।

फिर भी सरकार के कानों में जू तक नहीं रेंग रहा है.इस भूख हड़ताल कार्यक्रम में सैबून निशा, अंजू गुप्ता, किरण कुमारी, जगनू प्रवीण, सोनियां हांसदा,देवेंती टुडू, प्रमीला कुमारी, रंजना कुमारी, पूनम देवी, निधा कुमारी, बोबी कुमारी, तमन्ना प्रवीण, बंसती हांसदा, नेहा कुमारी, आदि सैकड़ो पोषण सखी उपस्थित थी|

Review आठ महीनें का बकाया मानदेय को लेकर पोषण सखी ने विधायक आवास पर एक दिवसीय भूख हड़ताल.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love