सोरेन सरकार 8वीं के छात्रों को पैसा नहीं सीधे साइकिल देगी, क्वालिटी से नहीं होगा समझौता

NH DESK-JHARKHAND

सिटी रिपोर्टर जितेंद्र कुमार

रांची. झारखंड सरकार प्रदेश के सरकारी स्कूल के कक्षा 8वीं में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को साइकिल के पैसे नहीं ब्लकि सीधे साइकिल देगी. इससे पहले सरकार साइकिल की जगह पैसे देती थी लेकिन अब सोरेन सरकार ने फैसला लिया है कि वह इन छात्रों को 4500 रुपये की साइकिल देगी. इसके साथ ही कल्याण विभाग ने इसके लिए टेंडर भी जारी कर दिए हैं. टेंडर की प्रक्रिया पूरी होते ही छात्रों को साइकिल दी जाएगी. इन साइकिलों को लेकर कल्याण विभाग ने साफ कह दिया है कि साइकिल की क्वालिटी से कोई समझौता नहीं किया जाएगा. इस साल ही इन छात्रों को साइकिल मिल जाएगी. झारखंड के सरकारी स्कूल के आठवीं कक्षा के छात्र और छात्राओं को राशि के बदले सीधे साइकिल दी जाएगी. झारखंड में आठवीं में करीब पांच लाख छात्र छात्राएं और इन सभी को साइकिल देने की तैयारी पूरी हो चुकी है.

प्रदेश के अनुसूचित जनजाति, अनुसूचित जाति, अल्पसंख्यक और पिछड़ा वर्ग को कल्याण विभाग साइकिल देगा और सामान्य वर्ग के छात्र-छात्राओं को शिक्षा विभाग की तरफ से साइकिल दी जाएगी. सामान्य वर्ग के छात्रों को पहले साइकिल के लिए 3500 रुपये ही मिलते थे लेकिन अब सरकार की तरफ से 4500 रुपये की साइकिल दी जाएगी.

सरकार ने ये फैसला इस लिए लिया है क्योंकि काफी शिकायतें मिलती थीं कि छात्र साइकिल के लिए मिलने वाली उस राशि से साइकिल नहीं खरीदते थे. इसलिए अब साइकिल के पैसे न देकर सरकार ने सीधे साइकिल देने का फैसला लिया है. साइकिल बांटने के लिए सरकारी स्कूलों में पहले नोडल ऑफिसर बनेंगे और इसके लिए शिक्षा विभाग ने सभी जिला शिक्षा अधीक्षकों को निर्देश दे दिया है. इसके साथ ही शिक्षा विभाग ने प्रखंड का नाम, स्कूल का नाम, नोडल पदाधिकारी और मोबाइल नंबर देने के लिए प्रोफॉर्मा जिलों को भेज दिया है.

Review सोरेन सरकार 8वीं के छात्रों को पैसा नहीं सीधे साइकिल देगी, क्वालिटी से नहीं होगा समझौता.

Your email address will not be published. Required fields are marked *