आज के दिन ही राखी गई थी लाल किले कि नीव

(भाषा) हर वक्त दौड़ती भागती दिल्ली के बीचों-बीच लाल बलुआ पत्थर से बनी एक खूबसूरत इमारत…