जन्माष्टमी विशेष : कृष्ण रंग में रंगे हसरत मोहानी की शायरी

आज जब हम हर बात में धर्म ढूंढने लगे हैं, भाषा से लेकर पोशाक तक को…