जेपीएससी का घेराव करने जुटे अभ्यर्थियों को पुलिस ने खदेड़ा

NH DESK-JHARKHAND

जिला संवाददाता जितेंद्र कुमार

 

राँची।झारखण्ड लोक सेवा आयोग 7वीं से 10वीं की परीक्षा को रद्द करने की मांग को लेकर बड़ी संख्या में अभ्यर्थी राँची में प्रदर्शन कर रहे हैं। पूर्व नियोजित कार्यक्रम के तहत राज्य के 24 जिले से अभ्यर्थी मंगलवार सुबह जेपीएससी मुख्यालय का घेराव करने पहुंचे थे।वहीं प्रशासन की तरफ से इन्हें वहां से खदेड़ दिया गया। उन्हें वहां बैठने की अनुमति नहीं दी गई।

इस दौरान सभी अभ्यर्थी आवाज दो, हम एक हैं…भाई-भतीजावाद बंद करो… सीट बेचना बंद करो… जब-जब छात्र जागा है, सत्ता का सिंहासन डोला है… जैसे नारे लगाते हुए JPSC से वापस मोरहाबादी मैदान में जमा हो गए हैं।

अभ्यर्थियों ने कहा कि जेपीएससी जाएंगे और जाकर रहेंगे। हम लड़ने नहीं आए हैं। ये अन्याय हो रहा है। रिजल्ट जारी होने के बाद कट ऑफ जारी नहीं हुआ है । अभ्यर्थियों ने आरोप लगाया है कि युवा ठगे जा रहे हैं। पैसे के बल पर नौकरी बांटी जा रही है।नाराज अभ्यर्थियों ने कहा कि हमारी संख्या कम थी इसलिए प्रशासन बलपूर्वक वहं से खदेड़ दिया। लेकिन हमलोग डरने वालों में से नहीं है। उन्होंने कहा हमारी लड़ाई जेपीएससी और सरकार से है। हम अपनी मांगें पूरी नहीं होने तक हार नहीं मानेंगे। हम एक बार फिर से पूरी ताकत से JPSC का घेराव करेंगे। हार नहीं मानेंगे। आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया जा रहा है। हमलोग इसका मुंहतोड़ जवाब देंगे।

आंदोलन कर रहे अभ्यर्थियों की मांग है कि 7वीं से 10वीं JPSC PT परीक्षा रद्द की जाए। उम्र सीमा में छूट देते हुए सीट बढ़ाने, अंतर जिला परीक्षा सेंटर बनाकर पारदर्शिता से चयन प्रक्रिया के आधार पर परीक्षा का आयोजन किया जाए।

वहीं आंदोलन कर रहे अभ्यर्थियों ने बताया कि JPSC की PT के रिजल्ट में बहुत गड़बड़ी की गई है। परीक्षाफल उम्मीद से विपरीत है। साहेबगंज, लातेहार, लोहरदगा और हजारीबाग जिला के एक ही सेंटर से बेंचवार क्रमवार बैठे अभ्यर्थियों को पास कर दिया गया है। JPSC की ओर से आउट ऑफ सिलेबस से सवाल पूछे गए थे। इन सबके बावजूद अब तक का सबसे हाई कट ऑफ गया।

Review जेपीएससी का घेराव करने जुटे अभ्यर्थियों को पुलिस ने खदेड़ा.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love