पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का जन्म दिवस टीएमसी के कार्यकर्ता द्वारा मनाया गया

NH DESK, WEST BENGAL

राज्य प्रभारी अरविंद कुमार, एनएच 24 न्यूज़

पश्चिम बंगाल, (अंडाल,खांद्रा): खांद्रा के टीएमसी कार्यकर्ता द्वारा दिनांक 05/01/2022 बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का जन्म दिवस मनाया गया यह कार्यकर्म खांद्रा टीएमसी पार्टी के ऑफिस में मनाया गया जिसमे खांद्रा के और आस पास के टीएमसी के कार्यकर्ता ने भाग लिया।

(जनवरी 5, 1955) भारतीय राज्य पश्चिम बंगाल की वर्तमान मुख्यमन्त्री एवं राजनैतिक दल तृणमूल कांग्रेस की प्रमुख हैं। लोग उन्हें दीदी (बड़ी बहन) के नाम से सम्बोधित करते हैं।बनर्जी का जन्म कोलकाता में गायत्री एवं प्रोमलेश्वर के यहाँ हुआ। उनके पिता की मृत्यु उपचार के अभाव से हो गई थी, उस समय ममता बनर्जी मात्र 17 वर्ष की थी। ममता बनर्जी को दीदी के नाम से भी जाना जाता है। वह पश्चिम बंगाल की पहली महिला मुख्यमन्त्री हैं। उन्होंने बसन्ती देवी कॉलेज से स्नातक पूरा किया एवं जोगेश चन्द्र चौधरी लॉ कॉलेज से उन्होंने कानून की डिग्री प्राप्त की।

ममता बन्द्योपाध्याय राजनीति में तब शामिल हो गए जब वह केवल 15 वर्ष के थे। योगमाया देवी कॉलेज में अध्ययन के दौरान, उन्होंने कांग्रेस (आई) पार्टी की छात्र शाखा, छत्र परिषद यूनियंस की स्थापना की, जिसने समाजवादी एकता केन्द्र से संबद्ध अखिल भारतीय लोकतान्त्रिक छात्र संगठन को हराया। भारत (कम्युनिस्ट)। वह पश्चिम बंगाल में कांग्रेस (आई) पार्टी में, पार्टी के भीतर और अन्य स्थानीय राजनीतिक संगठनों में विभिन्न पदों पर रही।नंदीग्राम नरसंहार के विरोध में, कलकत्ता में बुद्धिजीवियों का एक बड़ा वर्ग वाम मोर्चा सरकार के खिलाफ आंदोलन में शामिल हो गया।नंदीग्राम आक्रमण के दौरान सीपीआइ(एम) कार्यकर्ताओं पर ३०० महिलाओं और लड़कियों से छेड़छाड़ और बलात्कार करने का आरोप लगा था। 

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और तत्कालीन गृह मंत्री शिवराज पाटिल को लिखे पत्र में ममता बनर्जी ने सीपीआइ(एम) पर नंदीग्राम में राष्ट्रीय आतंकवाद को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। आंदोलन के मद्देनजर, सरकार को नंदीग्राम केमिकल हब परियोजना को स्थगित करने के लिए मजबूर होना पड़ा। लेकिन ममता किसान आंदोलन का नेतृत्व करके अपार लोकप्रियता हासिल करने में सफल रहीं। उपजाऊ कृषि भूमि पर उद्योग के विरोध और पर्यावरण की सुरक्षा का जो संदेश नंदीग्राम आंदोलन ने दिया वह पूरे देश में फैल गया।

यही वो आंदोलन है जिनमे लोगो ने टीएमसी पार्टी को समर्थन दिया और ममता बनर्जी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल में सरकार बनी और तभी से आज तक ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल राज्य के मुख्यमंत्री के तौर पर कार्य कर रही है।

ममता बनर्जी के जन्मदिन के आयोजन के अवसर पर टीएमसी के कार्यकर्ता उपस्थित थे जिन्होंने मनोहर जी का जन्म दिवस पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा केक काटकर और एक दूसरे को बधाई दिया तथा राज्य के मुख्यमंत्री और टीएमसी के नेत्री माननीय ममता बनर्जी और राज्य के मुख्यमंत्री को बधाई संदेश दिया। जिसमे पार्टी के तमाम पदाधिकारी शामिल थे जिनका नाम छोटन चक्रवर्ती, आशीष भट्टाचार्जी, दिबेंदु बनर्जी, सूखे चक्रवर्ती विनोद सिंह और संजय धीवर शामिल थे।

 

 

 

Review पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का जन्म दिवस टीएमसी के कार्यकर्ता द्वारा मनाया गया.

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Spread the love